Paytm और GooglePay में क्या अंतर है?

Paytm और google pay में क्या अंतर है?

Paytm और google pay में क्या अंतर है? – आजकल सभी मनी ट्रांजैक्शन ,टिकट, बिजली बिल, ऑनलाइन शॉपिंग, आदि के लिए paytm या phonepe का उपयोग जरुर करते हैं। लेकिन आज हम इस आर्टिकल में जानेंगे कि पेटीएम एवम गूगल पे में क्या अन्तर है? एवम् इनसे क्या लाभ है?

Paytm क्या है?

पेटीएम भारतीय ई-कॉमर्स पेमेंट सिस्टम एवम् प्रौद्योगिकी कम्पनी हैं। पेटीएम एक डिजिटल पेमेंट एप है जो IOS, एंड्रॉयड,Blackberry एवम् windows में कार्य करता हैं। Paytm के Founder विजय शेखर शर्मा जी हैं। सबसे पहले पेटीएम को अगस्त 2010 में नोएडा में स्थापित किया था। Paytm UPI को support करता हैं, जो कि काफ़ी ज्यादा सुरक्षित है।

Read More – Pendrive में 4GB या इससे बड़ी फाइल को कॉपी पेस्ट या शेयर कैसे करें

Paytm से फायदे

● Paytm में वॉलेट की सुविधा मिलती है जिससे बहुत ही तेजी से पेमेंट किया जा सकता हैं।
● पेटीएम में मल्टीपल बैंक अकाउंट्स जोड़ा जा सकता है और उसको प्रबंधित किया जा सकता है।
● Paytm में promo code को apply करके बहुत अधिक कैश बैक प्राप्त कर सकते है।
● Paytm में कहीं पेमेंट विकल्प है मतलब की अगर आप कोई पेमेंट अपने बैंक अकाउंट या डेबिट कार्ड से नहीं करना चाहते हैं तो आप किसी भी कार्ड से पेमेंट कर सकते हैं।
● मार्च 2021 में पेटीएम पेमेंट्स बैंक का कुल ट्रांजैक्शन 970 मिलियन सफलतापूर्वक प्रोसेस करके नया रिकॉर्ड बनाया था।

Paytm से हानि

● Paytm की वॉलेट सिस्योरिटी काफ़ी कमजोर होती है। अगर आप पेटीएम का उपयोग करते हैं तो पेटीएम वॉलेट में ज्यादा पैसे ना रखें।
● जब हम पेटीएम से यूपीआई ट्रांसफर करते हैं तो हर बैंक ट्रांसफर पर हमें चार पर्सेंट का चार्ज देना पड़ता है।

तो हमे इस जानकारी से यह पता चलता है कि paytm की वॉलेट सिक्योरिटी काफ़ी कमजोर है, तो चलिए अब हम गूगल पे के बारे में जानते हैं

Google pay क्या है?

यह डिजिटल वॉलेट प्लेटफ़ॉर्म और ऑनलाइन पेमेंट सिस्टम है जिसको गूगल द्वारा मोबाइल डिवाइस में ऐप के जरिए Tap -To-Pay की शक्ति से विकसित किया गया है। गूगल पे यूजर्स को एड्रॉइड फ़ोन,Teblet या smart watch के साथ भुगतान करने में सक्षम बनाती है।

Google pay के फायदे

● Google pay को गूगल के द्वारा डेवलप किया गया है।
● गूगल को आज से लगभग 4 साल पहले लांच किया गया था।
● इससे मल्टीपल बैंक अकाउंट को जोड़ा एवम् प्रबंधित किया जा सकता हैं।
● गूगल पे अगस्त 2010 में नोएडा में स्थापित किया था।
● यह फ़ोन के opreting system- एंड्रॉयड लॉलीपॉप 5.0 और इससे अधिक versions में सपोर्ट करता हैं।
● गूगल पे में सुरक्षा के कारण वॉलेट की सुविधा नहीं मिलती है जिसके कारण google pey काफी हद तक सुरक्षित हैं।
● गूगल पे मैं स्क्रैच कार्ड मिलता है जिसके द्वारा आप बहुत अधिक कैशबैक प्राप्त कर सकते हैं।
● गूगल पे UPI को support करता हैं जो कि एक सुरक्षित भुगतान सिस्टम हैं।

Google pay से हानि

● Google pay में वॉलेट की सुविधा नहीं है।
● इसका इंटरफेस थोड़ा hard हैं।

निष्कर्ष

Paytm एवं google pey में हमने देखा कि दोनो की वॉलेट सुरक्षा में काफ़ी अंतर है। मुझे उम्मीद है कि यह जानकारी आपको पसंद आई आएगी अगर इससे संबंधित आपके मन में कोई सवाल है तो हमे नीचे कमेंट करके जरूर बताएं।